डीबीटी फेस्ट ‘विज्ञान संगम’ का सफल आयोजन

डीबीटी स्टार कॉलेज स्कीम के तत्वाधान में, सी एम पी महाविद्यालय के, विज्ञान संकाय द्वारा चार दिवसीय डीबीटी फेस्ट ‘विज्ञान संगम’ का आयोजन जनवरी 17, 2022 से में जनवरी 20, 2022 के मध्य किया गया। ‘विज्ञान संगम’ के अंतर्गत विभिन्न शैक्षणिक कार्यक्रम जैसे क्विज, वाद विवाद प्रतियोगिता, पोस्टर प्रतियोगिता तथा विभिन्न विषयों पर प्रख्यात वक्ताओं के व्याख्यान आयोजित किए गए।

17 जनवरी 2022 को विज्ञान संगम का शुभारंभ प्रातः 11:00 बजे,डीबीटी प्रोग्राम कोऑर्डिनेटर ,सीएमपी महाविद्यालय, डॉक्टर सरिता श्रीवास्तव के द्वारा 'विज्ञान संगम' पर दिए गए संक्षिप्त विवरण से हुआ। इसके बाद रसायन विज्ञान विभाग की समन्वयक डॉक्टर सुनंदा दास ने अतिथि व्याख्यानदाता प्रोफेसर आरएन मुखर्जी, निवर्तमान अध्यक्ष रसायन विज्ञान विभाग आईआईटी कानपुर एवं निवर्तमान निदेशक आईसर कोलकाता ,के जीवन पर संक्षिप्त प्रकाश डाला। प्रोफ़ेसर मुखर्जी ने ‘इनऑर्गेनिक केमिस्ट्री ऑफ बायोलॉजिकल प्रोसेसेस’ पर विस्तृत चर्चा की।डॉक्टर संतोष कुमार श्रीवास्तव, एसोसिएट प्रोफेसर, रसायन विज्ञान विभाग ने अतिथि व्याख्यानदाता प्रोफेसर मुखर्जी का आभार व्यक्त किया। मंच का संचालन डॉ नेहा पांडे, असिसटेंट प्रोफ़ेसर, वनस्पति विज्ञान विभाग तथा धन्यवाद ज्ञापन डॉ चारू त्रिपाठी, असिसटेंट प्रोफ़ेसर,जंतु विज्ञान विभाग ने किया।

कोविड के नियमों का पालन करते हुए सारे कार्यक्रम डिजिटल प्लेटफॉर्म पर ऑनलाइन मोड में संपन्न कराए गए|17 जनवरी को ही दूसरे सत्र में क्विज प्रतियोगिता तथा वाद विवाद प्रतियोगिता संपन्न कराई गई| वाद विवाद प्रतियोगिता का विषय ऑनलाइन एजुकेशन, सोशल मीडिया ब्रिंग्स मोर हार्म दैन गुड एवं कैन ऑल्टरनेट एनर्जी एफेक्टिवली रिप्लेस फॉसिल फ्यूल रहा। जिस में प्रतिभागियों ने ,विषय के पक्ष और विपक्ष में, अपने विचार प्रस्तुत किए।

12

क्विज प्रतियोगिता डॉक्टर हिमानी चौरसिया, असिसटेंट प्रोफ़ेसर,रसायन विज्ञान विभाग द्वारा संपन्न करायी गयी। विभिन्न सत्र में आयोजित वाद विवाद प्रतियोगिता में डॉ ज्ञान प्रकाश, डॉक्टर विष्णु कुमार पांडे,डॉक्टर नीरज कुमार सिंह, डॉक्टर प्रेम प्रकाश सिंह , डॉ नेहा कुमारी,डॉ चारू त्रिपाठी तथा डॉ शिखा अवस्थी ने बड़े ही धैर्य पूर्वक प्रतिभागियों को सुना और उनका आकलन किया।डॉक्टर संगीता सिंह, , डॉ अतुल सिंह भारद्वाज, डॉ अजय कुमार यादव ने कार्यक्रम का समन्वय किया। |डीबीटी फेस्ट 'विज्ञान संगम' के दूसरे दिन कार्यक्रम की शुरुआत अतिथि व्याख्यानदाता प्रोफेसर शशि पांडे ,प्रोफेसर, सेंटर ऑफ एडवांस स्टडी इन बॉटनी, बनारस हिंदू विश्वविद्यालय के व्याख्यान से हुई ।कार्यक्रम की अध्यक्षता प्रोफेसर एच.के. खेरी, वनस्पति विज्ञान विभाग, इलाहाबाद विश्वविद्यालय ने की ।व्याख्यान का विषय: इंपॉर्टेंस ऑफ प्लांट टिशु कल्चर टेक्निक्स एंड इट्स टेक्नो कौमर्शियल फीज़िबिलिटी था| कार्यक्रम का संचालन डॉ अविनाश प्रताप सिंह , असिसटेंट प्रोफ़ेसर, वनस्पति विज्ञान विभाग ने किया| दूसरे सत्र में वाद विवाद प्रतियोगिता के दूसरे चरण का आयोजन हुआ। वाद विवाद प्रतियोगिता के विषय ऑनलाइन एजुकेशन , ऑल एनिमल टेस्टिंग शुड बी बैंड, द कारबन नेट- ज़ीरों एमिशन चैलेंज रहे| डॉ राजेश कुमार यादव तथा डॉ अनुषा सिंह ने प्रतिभागियों का आकलन कर प्रतियोगिता को सफलतापूर्वक संपन्न कराया। डॉ रोहित कुमार तथा डॉ अतुल सिंह भारद्वाज ने समन्वयक की भूमिका निभाई।

47

3

डीबीटी फेस्ट के तीसरे दिन प्रथम सत्र में प्रोफ़ेसर यू. सी. श्रीवास्तव , अमेरिटस प्रोफेसर, जंतुविज्ञान विभाग, इलाहाबाद विश्वविद्यालय के व्याख्यान का आयोजन हुआ। व्याख्यान का विषय : एंटीऑक्सीडेंट- अ बून फॉर द लाइफ ऑफ ह्यूमन बीइंग्स था। प्रोफेसर श्रीवास्तव के द्वारा सरल शब्दों में दिए गए व्याख्यान से ना केवल जंतु विज्ञान विभाग के विद्यार्थी एवं आचार्य अपितु सभी श्रोता चाहे वह किसी भी वर्ग से हो, निश्चित रूप से लाभान्वित हुए |कार्यक्रम का संचालन डॉ आशीष कुमार मिश्रा ,असिसटेंट प्रोफ़ेसर,जंतु विज्ञान विभाग ने किया। धन्यवाद ज्ञापन डॉ उमा रानी अग्रवाल , जंतु विज्ञान विभाग ने किया। द्वितीय सत्र में पोस्टर प्रतियोगिता का आयोजन हुआ। प्रतियोगिता के विषय बायोइलेक्ट्रिसिटी, हार्मफुल केमिकल्स एंड रेडिएशन और वेस्ट मैनेजमेंट थे| डॉ चारू त्रिपाठी, तथा डॉ आशीष कुमार मिश्रा ने पोस्टर प्रतियोगिता में समन्वयक की भूमिका निभाई । डॉ वंदना माथुर, ,जंतु विज्ञान विभाग, सीएमपी महाविद्यालय, डॉ संजय मसीह, जंतु विज्ञान विभाग, इविंग क्रिश्चियन कॉलेज ;डॉक्टर बबीता शर्मा, जंतु विज्ञान विभाग, पटना साइंस कॉलेज ,डॉ नीरजा कपूर जंतु विज्ञान विभाग सीएमपी महाविद्यालय, डॉ अमिता पांडे ,वनस्पति विज्ञान विभाग सीएमपीपी महाविद्यालय, डॉ बबीता अग्रवाल, रसायन विज्ञान विभाग, सी एम पी महाविद्यालय, डॉ सुधि श्रीवास्तव जंतु विज्ञान विभाग सीएमपी महाविद्यालय ,डॉ हेमलता पंत, जंतु विज्ञान विभाग ,सीएमपी महाविद्यालय, डॉ प्रवीण कुमार सिंह, रसायन विज्ञान विभाग, सीएमपी महाविद्यालय ने पोस्टर का अवलोकन कर उनका आकलन किया |आज डीबीटी फेस्ट’ विज्ञान संगम’ के चौथे और अंतिम दिन प्रातः सत्र में पोस्टर प्रतियोगिता के दूसरे चरण का आयोजन हुआ। पोस्टर का विषय रिसेंट इन्नोवेशंस इन साइंस था। डॉ चारू त्रिपाठी, जंतु विज्ञान विभाग ने कार्यक्रम का समन्वय किया। डॉ उमा रानीअग्रवाल ,जंतु विज्ञान विभाग सीएमपी महाविद्यालय , डॉक्टर लिली नाथन, जंतु विज्ञान विभाग इविंग क्रिश्चियन कॉलेज, डॉक्टर प्रतीक श्रीवास्तव , वनस्पति विज्ञान विभाग, सीएमपी महाविद्यालय ने पोस्टर का अवलोकन कर उनका आकलन किया। पोस्टर प्रतियोगिता के बाद, प्रोफेसर ए के राय, भौतिक विज्ञान विभाग, इलाहाबाद विश्वविद्यालय द्वारा 'स्पेक्ट्रोस्कोपी: टू मीट द चैलेंजेस इन डेली लाइफ'विषय पर व्याख्यान दिया गया। कार्यक्रम का संचालन डॉक्टर रोहित कुमार, भौतिक विज्ञान विभाग ,सीएमपी महाविद्यालय ने किया। डॉ निलेश कुमार राय ने प्रोफेसर राय का संक्षिप्त परिचय दिया। धन्यवाद ज्ञापन,डॉक्टर संगीता सिंह भौतिक विज्ञान विभाग ने किया। सभी कार्यक्रमों में ना केवल इलाहाबाद विश्वविद्यालय तथा उनसे संबंध महाविद्यालयों के छात्र बल्कि विभिन्न राज्यों से छात्रों की प्रतिभागिता रही। इस प्रकार डीबीटी फेस्ट विज्ञान संगम का चार दिवसीय कार्यक्रम सफलतापूर्वक संपन्न हुआ। समापन समारोह में मुख्य अतिथि , चौधरी जितेंद्र नाथ सिंह, चेयरमैन गवर्निंग बॉडी, सी एम पी महाविद्यालय, प्राचार्य डॉ बृजेश कुमार , डॉ उमा रानी अग्रवाल, डॉ नीरजा कपूर, डॉ ज्ञान प्रकाश, डॉ रेखा श्रीवास्तव, डॉक्टर संजय सिंह, डॉ विनीता जयसवाल, डॉ सुनंदा दास, डॉ नीलेश कुमार राय आदि उपस्थित थे। चौधरी जितेंद्र नाथ सिंह जी ने कहा कि विद्यार्थियों के सर्वांगीण विकास के लिए इस तरह के कार्यक्रम आयोजित किए जाने चाहिए। डॉ बृजेश कुमार ने आयोजकों को कार्यक्रम की सफलता के लिए बधाई दी। समापन समारोह का संचालन डॉ चारु त्रिपाठी ने किया। चार दिवसीय कार्यक्रमों की आख्या डॉ संगीता सिंह ने प्रस्तुत की।डॉक्टर हिमानी चौरसिया ने विभिन्न प्रतियोगिताओं में रहे विजेताओं के नाम घोषित किए। धन्यवाद ज्ञापन डॉक्टर सरिता श्रीवास्तव, कोऑर्डिनेटर ,डीबीटी स्टार कॉलेज स्कीम, सीएमपी महाविद्यालय ने किया। इस चार दिवसीय विज्ञान संगम को संपन्न कराने में डॉ अविनाश प्रताप सिंह, डॉ रोहित कुमार, डॉ मनोज कुमार जयसवाल, डॉ विशाल श्रीवास्तव डॉक्टर पल्लवी राय , डॉ नेहा पांडे, डॉ चारू त्रिपाठी, डॉ संगीता सिंह, डॉ आशीष कुमार मिश्रा ,डॉ अकरम अली, डॉ रंजीत कुमार, डॉ हिमानी चौरसिया का विशेष योगदान रहा।